Saturday, 17 February 2018

अशांति का एक बड़ा कारण है ----- कर्तव्यपालन में ईमानदारी न होना

 केवल  व्यक्ति  ही  नहीं  ,  समाज  व  राष्ट्र  का  भी  दुर्भाग्य  होता  है   l  बुद्धि  ऐसी  भ्रष्ट  हो  जाती  है  कि  गलत  काम  करने  वाले ,  अपराधी  और  मर्यादाहीन  आचरण  करने  वाले   समाज  में  बहुत  शान  से  रहते  हैं ,  डर   से  ही  सही  उनका  समाज  में  आदर  होता  है  ,  इसके  विपरीत  सच्चाई  व  ईमानदारी  से  काम  करने  वालों  को  उपेक्षित  किया  जाता  है  l   उन्हें  हर  तरह  से  तंग  किया  जाता  है  l   अच्छाई को  संगठित  होना  पड़ेगा   l 

No comments:

Post a comment