Wednesday, 24 January 2018

अशांति का कारण है दंड का भय न होना ----

जिस  भी  समाज  में  लोगों  को  दंड  का  भय  नहीं  होता  ,  अपराधी  को  मालूम  होता  है  कि  उसे  बचाने  वाले  बहुत  हैं  इसलिए  वह  हिंसा , तोड़ फोड़ , आगजनी ,  लूटपाट  आदि  अपराध  कर  लोगों  को  आतंकित  करते  हैं  l   ऐसे  अपराधियों  की  किसी  से  व्यक्तिगत  दुश्मनी  नहीं  होती  ये  तो  बस  कठपुतली  हैं  ,  यही  इनकी  आय  का  साधन  है  l   समाज  में  ऐसे  लोगों  की  अधिकता  हो  जाती  है  जो  अन्याय  को  देखकर  आँखें  बंद  कर  लेते हैं   l  

No comments:

Post a comment