Monday, 18 September 2017

अन्याय और अत्याचार समाप्त क्यों नहीं होता ?

    अपराधी  यदि  पकड़  में  न  आये  ,  उसे  दंड  का  भय  न  हो ,  तो  उनके  हौसले  बुलंद  हो  जाते  हैं  और  उनके  भीतर  कायरता  बढ़ती  जाती  है  l     बच्चों    की    हत्या  करना   कायरता   की   चरम  सीमा  है  l  न्याय  की  अपनी  एक  प्रक्रिया  है   l     अपराध  इसलिए  बढ़ते  हैं   क्योंकि  समाज  संगठित  रूप  से  अपराधियों  का  बहिष्कार  नहीं  करता   l  बुरे  से  बुरा व्यक्ति  भी   समाज  में  अपनी  प्रतिष्ठा  बनाये  रखने  के  लिए    चेहरे  पर  शराफत  का  नकाब  ओढ़े  रहता  है  l   समाज  के  लोग  उसकी  असलियत  को  जानते  भी  हैं    लेकिन  अपने  छोटे - छोटे  स्वार्थ  के  लिए वे उससे  जुड़े  रहते  हैं  ,  ' गिव  एंड  टेक '  चलता  रहता  है       जनता  जागरूक  होगी  ,  संगठित  होगी  तभी  समस्याओं  से  मुक्ति  है   l   विज्ञान  ने  मनुष्य  को  इतना  बुद्धिमान  बना  दिया  है  कि  ' कठपुतली '   की    डोर  किसके  हाथ  में  है ,  यह  जानना  कठिन  है  l

No comments:

Post a comment