Thursday, 6 November 2014

तनाव को दूर भगाएँ

हमारे  तनाव  का  सबसे  बड़ा  कारण  यह  है  कि  हम  सबसे  उम्मीद  बहुत  करते  हैं------' हमने  किसी  के  लिए  इतना  किया '   उसने  हमारे  लिए  कुछ  नहीं  किया   ।   हम  घर परिवार  में,  पति-पत्नी,  बच्चों  से,  माता-पिता  से,  पड़ोसी  से,  आफिस  में,  सबसे    उम्मीद  ( Expect )करते  हैं  और  उनके  पूरा  न  होने  पर  तनाव  से  घिर  जाते  हैं   जिसका  परिणाम  होता  है-----  विभिन्न  बीमारियाँ   ।
पशु-पक्षी  कभी  किसी  से  कोई   उम्मीद  नहीं  रखते,  हमें  मानव  शरीर  मिला,  हम  शांति  से  रहें  ।
    यह  संसार  गणित  से  चलता  है  ।  कोई  हमें  कुछ  देगा  या  हमारा  कुछ  हित  करेगा  तो  उसका  हिसाब  हमें,  हमारे  परिवार  को  कभी-न-कभी,  किसी-न-किसी  रूप  में  चुकाना  ही  पड़ेगा  ।  ईश्वर  ने  जब  हमें  बुद्धि  दी  है  तो  हम  क्योँ  किसी  के  कर्जदार  बने  ।
       सबसे  बड़ी  बात  यह  है  कि  हम  अपनी  जिम्मेदारियों  को  निबाहें,  अपने  कर्तव्य  का  पालन  करें  ।   इससे  हमारे  भीतर  अपराध-बोध  नहीं  होगा  |   प्रकृति  ,  ईश्वर,  वो  अज्ञात  शक्ति  ! जो  हमारे  प्रत्येक  कर्म  की ,  हमारे  हर  विचार  की  गवाह  है,  वह  हमें,  हमारे  लिये  जो  उचित  होगा,  अवश्य  देगी  । 

No comments:

Post a comment