Friday, 20 July 2018

नकारात्मक सोच व्यक्ति और समाज को आगे बढ़ने नहीं देती

जिनकी  सोच  नकारात्मक  होती  है   वे  हर  अच्छाई  में  बुराई  ढूंढते  हैं   l  जब  समाज  में  ऐसे  लोगों  की  अधिकता  हो  जाती  है   तो  वे   बुराई  को  ही  स्थापित  करते  हैं  l  ऐसे  लोगों  का  यथा संभव  प्रयास  यही  होता  है  कि  अच्छाई  को  उपेक्षित  किया  जाये ,  उसे  आगे  न  बढ़ने  दिया  जाये   l   इस   तरह  वे  लोग   बुराई  को  ही  प्रतिष्ठित  करना  चाहते  हैं  l  ऐसी  स्थिति  में  विकास  रुक  जाता  है  l 

No comments:

Post a Comment